What is XML in Hindi

XML क्या है और इसके फायदे, नुकसान

Hello दोस्तों! आज हम इस पोस्ट में What is XML in Hindi (एक्सएमएल क्या है?) के बारें में पढेंगे और इसके फायदे तथा नुकसान को भी देखेंगे. इसे आप पूरा पढ़िए, यह आपको आसानी से समझ आ जायेगा. तो चलिए शुरू करते हैं:-

XML क्या है?

  • XML एक markup language है। इसका पूरा नाम Extensible Markup Language है।
  • XML को 1990 के दशक में W3C (World Wide Web Consortium) ने विकसित किया था।
  • HTML में बहुत सारीं कमियां थी इसलिए XML को विकसित किया गया. यह HTML की limitations (कमियों) को पूरा करती है।
  • XML डाटा को store और organize करने के लिए इस्तेमाल की जाती है.
  • यह एक case-sensitive लैंग्वेज है.
  • XML के द्वारा हम किसी भी तरह के data को स्टोर कर सकते हैं और एक web page से दूसरे web page पर डेटा को बहुत आसानी से transfer भी कर सकते है।
  • हम XML को डेटाबेस के रूप में भी प्रयोग कर सकते हैं.
  • XML tags पहले से define नहीं होते. हमें इन्हें खुद ही define करना पड़ता है.
  • XML, HTML को replace नहीं करती है।
  • XML जो है वह platform independent और language independent है. अर्थात यह किसी भी device में run हो जाती है और इसका इस्तेमाल किसी भी language के साथ किया जा सकता है.
  • XML और HTML को combine करके इस्तेमाल किया जा सकता है। XML और HTML के combined version को X-HTML कहते है।

XML को विकसित क्यों किया गया?

HTML एक बहुत ही popular और बड़ी language है। HTML में 100 से भी ज्यादा tags है। इन सभी tags को याद रखना और इस्तेमाल करना बहुत ही मुश्किल है। साथ ही HTML का presentation ब्राउज़र के अनुसार change हो जाता है।

HTML में एक problem ये है कि कई बार आपके document में original content से ज्यादा तो tags हो जाते है।

इन सभी problems को solve करने के लिए XML को विस्कित किया गया था। ऐसा बिलकुल भी नहीं है कि XML, HTML को replace करती है और आगे भविष्य में भी ऐसा होना संभव नहीं है।

Advantages of XML in Hindi – XML के फायदे

XML एक बहुत ही शक्तिशाली language है और ये अपने कुछ advantages की वजह से दूसरी languages से अलग है। आइये इन advantages के बारे में जानते है।

  1. इसके द्वारा हम बहुत ही complex (जटिल) प्रकार के data को आसानी से handle कर सकते हैं.
  2. इसके माध्यम से हम data को share कर सकते है.
  3. इसके द्वारा data के description को text format में दिया जा सकता है।
  4. XML के format को मनुष्य के साथ-साथ computer भी read कर सकता है.
  5. XML में data को tree के structure में handle किया जाता है इसके कारण इसकी speed बहुत ही तेज होती है.
  6. इसके द्वारा हम डाटा को लम्बे समय तक store कर सकते हैं और दुबारा से use भी कर सकते हैं.
  7. XML में data को markup language के द्वारा describe किया जाता है।
  8. इसका इस्तेमाल दूसरी languages को create करने के लिए किया जाता है. जैसे कि – XHTML, WSDL, WAP,RDF, और SMIL आदि.

Disadvantages of XML in Hindi – XML के नुकसान

XML की कुछ कमियां है जो इसको दूसरी languages से पीछे रखती है। आइये इनके बारे में जानने का प्रयास करते है।

  1. यह binary data जैसे कि – image को स्टोर करने में सक्षम नहीं है.
  2. XML का syntax बहुत ज्यादा verbose और redundant (अनावश्यक) हैं। यानि बहुत ही explanatory (व्याख्यात्मक) है।
  3. यह किसी भी तरह के data types को support नहीं करती है। जैसे कि-  integer, strings आदि।
  4. यह array को सपोर्ट नहीं करता है.
  5. इसमें Document का hierarchical representation सिमित (limited) होता है।
  6. इसमें namespaces का इस्तेमाल करना कठिन है.
  7. XML का कोई application processing system नहीं है। Processing के लिए XML को HTML पर निर्भर रहना पड़ता है।
  8. इसमें document को setup करना बहुत ही मुश्किल है.

Applications of XML in Hindi – XML के अनुप्रयोग

इसका प्रयोग बहुत सारें कार्यों के लिए किया जाता है. इनमें से कुछ के बारें में नीचे दिया जा रहा है:-

  • बड़ी websites को maintain करने के लिए XML को use किया जा सकता है।
  • कंपनियों के बीच में information का आदान-प्रदान करने के लिए XML का इस्तेमाल किया जाता है.
  • Database को load और unload करने के लिए भी XML का प्रयोग किया जा सकता है।
  • XML को style sheets के साथ merge किया जा सकता है।
  • किसी भी तरह के data को XML document के रूप में convert किया जा सकता है।

XML का एक सरल program –

नीचे आपको इसका सरल प्रोग्राम दिया गया है:-

<?xml version="1.0" encoding="ISO-8859-1"?>  
<note>  
  <to>Yugal</to>  
  <from>Pankaj</from>  
  <heading>Hellor</heading>  
  <body>How are You?</body>  
</note>  

Difference between HTML and XML in Hindi

इनके मध्य अंतर को नीचे दी गयी table के द्वारा आसानी से समझ सकते हैं:-

HTML XML
यह एक markup language है. यह एक standard markup language है जो कि दूसरी markup languages को define करता है.
यह case-sensitive लैंग्वेज नहीं है. यह case-sensitive लैंग्वेज है.
यह static है. यह dynamic है.
यह छोटे errors को ignore कर सकता है. यह छोटे errors को ignore नहीं करता है.
HTML tags पहले से define होते है. XML tags यूजर के द्वारा define होते है.
इसमें white space संरक्षित (preserved) नहीं होते. इसमें white space संरक्षित होते हैं.
इसका प्रयोग data को display करने के लिए किया जाता है. इसका प्रयोग data को store और transport करने के लिए किया जाता है.
इसमें closing tags आवश्यक नहीं होते. इसमें closing tags आवश्यक होते हैं.
यह एक presentation language है. यह ना तो presentation language है और नाहीं programming language है.

 

xml in Hindi

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

php shell Buy Rick Simpson Oil